Manipur violence reason in hindi | manipur violence 2023 के कारण ।

 Manipur violence , Manipur violence reason , manipur news , manipur paraded video 



manipur violence in hindi


Manipur में तीन महीनों तक लगातार होने वाली हिंसा में 150 से अधिक लोग मारे जा चुके है और 500 से अधिक घायल हुए है । मणिपुर के गंभीर हालातों को नकारने के बाद जब दो महिलाओं का शर्मसार करने वाला वीडियो सामने आया तन केंद सरकार और राज्य सरकार की सारी पोल खुल गयी । 



manipur paraded video / manipur viral video


कुकी-ज़ोमी समुदाय से जुड़ी इन महिलाओं के साथ चार मई को मैतेई बहुल थोबल ज़िले में यौन उत्पीड़न हुआ था.


वीडियो में दिख रही एक महिला की उम्र लगभग 20 वर्ष और दूसरी महिला की उम्र 40 वर्ष बताई जा रही है.


 तीन मई को आधुनिक हथियारों से लैस 800 से लेकर 1000 लोगों ने थोबल ज़िले में स्थित उनके गांव पर हमला बोला. और इन लोगों ने गांव में लूटपाट करने के साथ ही आग लगाना शुरू कर दिया.


ऐसी स्थिति में दो महिलाओं और युवा महिला अपने पिता और भाई के साथ जंगलों की ओर भागे.


एक बार तो  पुलिस इन महिलाओं को बचाने में कामयाब भी हुई.और पुलिस इन लोगों को थाने लेकर जा रही थी लेकिन थाने से दो किलोमीटर पहले ही भीड़ ने उन्हें रोक लिया.


इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने इन महिलाओं को पुलिस से छीन लिया जिसके बाद युवा महिला के पिता को मौके़ पर ही मार दिया गया.


इसके बाद तीनों महिलाओं को भीड़ के सामने निर्वस्त्र होकर चलने के लिए विवश किया गया और युवा महिला के साथ सरेआम गैंगरेप करने का आरोप है. एफ़आईआर के मुताबिक़ जब इस महिला के 19 वर्षीय भाई ने उसे बचाने की कोशिश की तो उसे भी मार दिया गया.


वीडियो सामने आने के बाद manipur के मामले में भारत की बदनामी हुई और सरकार को मानना पड़ा कि ये एक मात्र घटना नही थी बल्कि सेकड़ो घटनाओं में से बस एक थी । राज्य में हत्या , बलात्कार और लूटपाट की सैकड़ों की तादात में fir हुई लेकिन किसी पर भी कोई कार्यवाही नही हुई ।


Manipur पुलिस पर आरोप लगे कि उन्होंने meitei लोगों को सरकारी हथियार दिए । जिससे हिंसा में लगातार बढ़ोतरी होती चली गयी ।





manipur violence reason | manipur violence in hindi

manipur की आबादी करीब 38 लाख है जिसमे से 53% भू भाग ज़मीन पर मैतेई और 40% पर नाग कुकी  रहते है । मणिपुर की 60 सीटें इम्फाल के हिन्दू बहुल इलाकों में है जबकि केवल 20 सीटें ही कुकी इलाके  के लिए थी  । हाल ही में मणिपुर के हाई कोर्ट ने फैसला और निर्देश दिया कि मैतेई को भी अनुसूचित जनजाति का दर्जा दिया जाए । कुकी समाज को डर है कि राजनीति में जैसे उनकी भागीदारी ना के बराबर है उसी तरह से मैतेई को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने से कुकी समाज हासिये पर चला जायेगा इसलिए इस फैसले के बाद बड़े पैमाने पर प्रोटेस्ट हुए । 


कुकी समुदाय के प्रोटेस्ट के खिलाफ मैतेई ने भी प्रोटेस्ट करना शुरू किया जो कि बाद में दंगो में बदल गया ।



manipur violence aakhir  क्यों नही रुका ।


Manipur में इस वक़्त एक तरह से गृहयुद्ध के हालात है । सुप्रीम कोर्ट ने साफ तौर पर इसे सरकार की नाकामी माना है । manipur की सरकार दंगों को रोकने में नाकाम नही हुई बल्कि उसने दंगों को रोकने की कोशिश ही नही की ताकि meitei समाज को खुश किया जा सके और कुकी समाज को सबक सिखाया जा सके । ये सब पोलटिक्स है और ना जाने कितने ही लोग बीजेपी की इस डर्टी पोलटिक्स का शिकार हुए है और कितनो को अभी होना बाकी है । 





manipur violence का समाधान


jab भी कोई इंसान देश का प्रधान मंत्री बनता है या किसी राज्य का मुख्यमंत्री बनता है तब उसे अपने अतीत को भूल जाना चाहिए ।  उसे भूल जाना चाहिए कि वह किस जाति का है और किस पार्टी का है । बस याद होना चाहिए कि वह सभी लोंगो का  प्रधानमंत्री है या फिर सभी लोंगो का मुख्यमंत्री है । उसे सब लोंगो की भलाई के लिए समान रूप से काम करना चाहिए जिसने उसे वोट दिया है उसके लिए भी और जिसने उसे वोट नही दिया था उसके लिए भी । 


लोगो को इसलिए दंगो की आग में झोंक देना ताकि राजनीति की रोटियां सेकी जा सके बिल्कुल भी जायज़ नही है । राज्य और देश के लोगों को समान रूप से देखा जाना चाहिए ।


भारत मे हर तरह की हिंसा से निपटने के लिए कानून मौजूद है लेकिन अगर कानून के हिसाब से सरकार कार्यवाही नही करेगी तो फिर दंगे कैसे रुकेंगे । अगर सरकार दंगाइयों पर इसलिए कार्यवाही नही करेगी कि वो उनकी पार्टी को वोट देते है तब कानून व्यवस्था चरमरा जाएगी ।

भारत मे दंगों का लंबा इतिहास रहा है और अक्सर दंगो में सज़ा या तो हुई ही नही या फिर ना के बराबर हुई है इसलिए दंगे बार बार होए है ।

Comments

Popular posts from this blog

Love marriage in islam | इस्लाम लव मैरिज , गर्ल फ्रेंड और परिवार की मर्ज़ी के बिना शादी के बारे में क्या कहता है ?

Kin se nikah haram hai | kis aurat se shadi nahi karni chahiye

Joe jonas and sophie turner divorce । जेठ और जेठानी के तलाक से परेशान हुई प्रियंका चोपडा